News Flash
Search

हाजीपुर में प्रोपर्टी डीलर ने पीट-पीट कर की एक वकील की हत्या

हाजीपुर। सदर थाना क्षेत्र के दिग्घीकला पूर्वी में शनिवार की सुबह एक प्रोपर्टीडीलर ने अपने साथियों के साथ मिलकर एक वकील की पीटपीट कर हत्या कर दी. घटना को अंजाम देने बाद सभी वहां से फरार हो गए. मिली जानकारी के अनुसार वकील बेलकुंडा धर्मपुर गांव के स्व. शंकर शर्मा के 45 वर्षीय पुत्र राजीव कुमार हाजीपुर के नगर थाना स्थित शाही कॉलोनी में रहते थे. शनिवार की सुबह 6 बजे उन्होंने अपने साथी संजीव को फोन कर दिग्घी चलने को कहां. राजीव ने दिग्घी पूर्वी में एक जमीन ले रही थी और उसी को देखने जाने वाले थे. उन्होंने अपने बहनोई और जमीन के मालिक अनिल कुमार को भी फोन कर दिग्घी आने को कहां. सुबह करीब 7 बजे तीनो दिग्घी पहुंचे और जमीन की फोटो खीचने लगे.

मृतक वकील राजीव का घायल मित्र संजय

जमीन की फोटो खीचने के दौरान पास के घर से दो युवक उनके पास आ गए और उनकी बाइक की चाभी निकल ली. फिर दोनों युवक राजीव और उनके साथी के साथ मारपीट करने लगे. मारपीट कर रहे दोनों युवक ने आवाज लगाकर जयप्रकाश राय उर्फ जेपी को बुलाया. जयप्रकाश पास के ही घर में रहता है और प्रोपर्टीडीलिंग का काम करता है. आवाज सुनकर जयप्रकाश अपने तीन अन्य साथियों के साथ वहां पहुच गया. इसके बाद सभी मिलकर राजीव, संजीव और अनिल की पिटाई करने लगे. चोटिल राजीव भाग कर पास के ही घर में जा छुपा. वही मारपीट में घायल संजीव और अनिल एक बाइक से सदर थाने की ओर भागे. इस दौरान जयप्रकाश अपने साथियों के साथ राजीव की तलाश करने लगा. घर में छुपे राजीव ने अपने छोटे भाई राहुल को फोन कर इस बारे में जानकारी दी. बदमाशो को जैसे ही भनक लगी कि राजीव घर में छुपा हुआ है, सभी ने घरवालों के साथ मिलकर उसकी पिटाई शुरू कर दी. इसके बाद उसे मरा समझ पास के ही रेलवे लाइन पर फेक फरार हो गए.

दूसरी ओर राजीव का भाई राहुल, संजीव और अनिल के साथ सदर थाने पहुंचे. सदर पुलिस सुचना मिलते ही सभी को अपनी गाड़ी में बिठा घटनास्थल पर पहुंची. वहां रेलवे लाइन पर राजीव को मुर्छित पाया. पुलिस राजीव को तुरंत इलाज के लिए सदर अस्पताल ले आई. वहां से डॉक्टरों ने पीएमसीएच रेफर कर दिया. परिजन राजीव को लेकर तुरंत पीएमसीएच के लिए रवाना हो गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया.
चार घंटे तक रहा यातायात बंद 
राजीव का शव इसके बाद व्यवहार न्यायालय लाया गया. इसके बाद मृत राजीव के परिजन, दोस्त और अधिवक्ताओं ने उसके शव को समाहरणालय के मुख्य द्वार पर रखकर यातायात बंद कर दिया. दोपहर करीब 2 बजे से शाम 6 बजे तक आक्रोशित लोगों ने टायर जलाकर गांधी चौक पर भी प्रदर्शन किया. पुलिस द्वारा जल्द करवाई के आश्वासन के बाद लोगों को जाम से निजात मिली. सदर थानाध्यक्ष चितरंजन ठाकुर ने कहा कि अधिवक्ता राजीव हत्याकांड मामले में 11 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. इनमे तीन महिलाओं सहित 6 नामजद और 5 अज्ञात लोगों है. तीन महिलाओं को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है. सभी आरोपिओं को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. उन्होंने कहां कि आसपास के लोगों से पता चला है कि जयप्रकाश पहले भी मारपीट कर जमीन पर कब्जा करने का काम किया करता था.
क्या कहा वैशाली एसपी राकेश कुमार ने 
वैशाली एसपी राकेश कुमार ने कहा कि वकील राजीव हत्याकांड व उनके साथियों के साथ मारपीट मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है. पुलिस जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें सजा दिलवाएगी.
– पुलिस अधिक्षक राकेश कुमार



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *