News Flash
Search

जब मैं एमएलए बना लालूजी को कोई जानता तक नहीं था: पासवान

हाजीपुर।  हाजीपुर के हरिहरपुर स्थित कृषि विज्ञान केंद्र में प्रेस से बात करते हुए केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि मै जब राजनीति में आया था तब लालू यादव का पता तक नहीं था. मै 1969 में एमएलए बना था, उस वक्त लालूजी का कोई अता-पता तक नहीं था. उन्हें कोई जानता तक नहीं था. 1974 में लालूयादव को लोगों ने जानना शुरू किया है. इसलिए यह कहना कि एनडीए के नेता उनके प्रोडक्ट है एक हास्यास्पद है. लालू और उनके परिवार पर लगे भ्रष्टाचार को वे नहीं धो सकते.
उन्होंने कहा  कि रविवार को पटना में आयोजित राजद की रैली कोई मायने नहीं रखती. बीते तीन महीने से राजद के कार्यकर्ता रैली के नाम पर लोगों से पैसे वसूल रहे थे. रैली पर किए गई करोडो रुपए को बाढ़ पीड़ितों की मदद में लगाना चाहिए था. ये भ्रष्टाचार बचाओ रैली की गई थी. मंच पर आए लोग यह बताने की कोशिश कर रहे थे कि वे भी भ्रष्टाचारियों के साथ खड़े है. रैली में गांधी मैदान में एक-चौथाई लोग भी नहीं आए हुए थे. जेपी ने नाम पर सभी लोग भ्रष्टाचार बचाओ रैली कर रहे थे. शरद यादव के संबंध में लालू यादव ने कभी कहा था कि उन्हें एक मधेपुरा का बटईया जमीन दे दिया गया है उन्हें इतने दूर तक ही सीमित रहना चाहिए, आगे नहीं बढ़ना चाहिए. शरद यादव पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि लालूजी का एक हाथ पांव पर और दूसरा हाथ गर्दन पर रहता है. उन्होंने कहा कि बिहार की जनता को तो यह भी नहीं मालूम कि लालू यादव की संपति और किन-किन राज्य में कहां-कहां है.



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *