NOU के 12 वें दीक्षांत समारोह में छात्राओं को 20 स्वर्ण पदक

35

पटना । नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के 12 वें दीक्षांत समारोह में 29 में से 20 गोल्ड मैडल छात्राओं को मिला. ये महिला सशक्तिकरण का परिचायक है. छात्राएं अपनी प्रतिभा का उपयोग कर रहीं हैं. समारोह का उद्घाटन राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने किया. उन्होंने कहा कि  ‘जो समाज और देश शिक्षा को सर्वाधिक महत्त्व देते हैं, वही तेजी से प्रगति करते हैं. तालीम से बढ़कर दूसरी कोई ताकत नहीं. शिक्षा मनुष्य को नैतिक मूल्यों और आदर्शों के प्रति आस्थावान बनाती है।’’ राज्यपाल ने पिछले दिनों राजभवन में सम्पन्न क कुलपतियों की बैठक का हवाला देते हुए कहा कि विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालय को अपने सभी भवनों में छात्राओं के वाशरूम की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया है. उन्होंने कहा कि इनके बगैर नये महाविद्यालयों को प्रस्वीकृति नहीं दी जाएगी. उन्होंने कहा कि छात्राओं के लिए गर्ल्स कॉमन रूम, बायोमैट्रिक पद्धति से हाजिरी आदि व्यवस्था भी सभी विश्वविद्यालय एक निर्धारित समयावधि में सुनिश्चित करायेंगे. उन्होंने कहा कि सभी विश्वविद्यालयों को आगामी वर्ष  का एकेडमिक और परीक्षा कैलेण्डर शीघ्र तैयार कर उनका कार्यान्वयन सुनिश्चित करने को कहा गया है. राज्यपाल ने नालंदा खुला विश्वविद्यालय का एकेडमिक सत्र समय पर संचालित करने के लिए कुलपति एवं सभी अधिकारियों को धन्यवाद दिया.

नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के 12 वें दीक्षांत समारोह में डिग्रीधारी छात्र-छात्राएं

राज्यपाल ने कहा कि हावर्ड, कैम्ब्रिज, कोलंबिया, कैलिफोर्निया, शिकागो और एम. आर्इ. टी. जैसे आमरीकी विश्वविद्यालयों के पूर्ववर्ती विद्यार्थियों को काफी संख्या में ‘नोबेल पुरस्कार’ मिले हैं, जबकि भारत में ही नोबेल पुरस्कार काफी कम लोगों को मिल सके हैं. उन्होंने कहा कि हमारे विश्वविद्यालयों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के विकास पर जोर देना चाहिए.

कार्यक्रम में ‘दीक्षांत-भाषण’ देते हुए मेघालय के राज्यपाल गंगा प्रसाद ने कहा कि नालंदा खुला विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को दहेज-उन्मूलन के लिए जागरूकता अभियान को तेज करने में सहयोग करना चाहिए. कार्यक्रम में नालंदा खुला विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर.के.सिन्हा ने विश्वविद्यालय का प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। दोनों राज्यपालों ने विद्यार्थियों के बीच स्वर्ण -पदकों एवं डिग्रियों का वितरण किया. कार्यक्रम में 98 वर्षीय राजकुमार वैश्य को भी स्नातकोत्तर डिग्री प्रदान की गर्इ. कार्यक्रम में धन्यवाद-ज्ञापन कुलसचिव डा. एस.पी. सिन्हा ने किया.




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *