पटना में दानापुर मंडल संसदीय समिति की बैठक का आयोजन

पटना (चन्द्र प्रकाश) । दानापुर मंडल क्षेत्राधिकार के माननीय सांसदों के ‘मंडल संसदीय समिति‘ की बैठक का आयोजन किया गया. बैठक में पूर्व मध्य रेल के दानापुर मण्डल के क्षेत्राधिकार में आने वाले माननीय सांसदों – डाॅ. सीपी ठाकुर, वशिष्ठ नारायण सिंह, गोपाल नारायण सिंह, डाॅ. अरूण कुमार, श्रीमती वीणा देवी, अली अनवर अंसारी, कौशलेंद्र कुमार, शत्रुध्न प्रसाद सिन्हा, अष्विनी चैबे, डाॅ. अनिल कुमार सहनी सहित कुल 10 माननीय सांसदों ने भाग लिया. इस मौके पर पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक डीके गायेन अपने मुख्यालय के विभागाध्यक्षों तथा दानापुर मंडल के मंडल रेल प्रबंधक आरके झा एवं दानापुर मंडल के विभागाध्यक्षों के साथ उपस्थित थे. बैठक दानापुर मंडल के मंडल समिति के अध्यक्ष सह राज्यसभा के सांसद सीपी ठाकुर की अध्यक्षता में हुई.

दानापुर मंडल संसदीय समिति की बैठक के प्रतिभागी

विदित हो कि माननीय रेल मंत्री, भारत सरकार द्वारा रेल बजट-2015 में प्रत्येक रेल मंडल में स्थानीय मुद्दे एवं जनाकांक्षाओ के समाधान के लिए एक मंडल संसदीय समिति का गठन करने हेतु प्रस्ताव किया गया था. इसी के लिए पूर्व मध्य रेल के पांचो मंडलों में मंडल समिति का गठन किया गया है. यह मंडल समिति, जनता एवं रेलवे के मध्य एक महत्वपूर्ण सेतु की तरह कार्य करेगी तथा स्थानीय जनता के मुद्दों एवं जनाकांक्षाओं के समाधान के लिए वर्ष में दो बार बैठक करेगी.

बैठक की अध्यक्षता करते हुए दानापुर मंडल के मंडल समिति के अध्यक्ष सह सांसद सीपी ठाकुर ने बैठक को संबोधित किया तथा उपस्थित सांसदों से प्राप्त रेलवे के विकास संबंधी सुझावों की प्रशंसा की. इसके साथ ही दुर्घटना होने पर मुआवजे की राशि को बढ़ाकर 10 लाख करने, कुलियों का रेलवे अस्पताल में इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने, बिहटा-औरंगाबाद लाईन को चालु करने, तिलैया-कोडरमा लाईन का निर्माण कार्य प्रारंभ करने, आरा-सासाराम रेलखंड का दोहरीकरण करने, दानापुर में राजधानी एक्सप्रेस सहित सभी प्रमुख ट्रेनों का ठहराव प्रदान करने सहित अन्य सुझाव दिए.
इसके पहले बैठक में पूर्व मध्य रेल के महाप्रबन्धक ने उपस्थित सांसदों का स्वागत करते हुये कहा कि आपने अपना बहुमूल्य समय देकर हमारा मान बढ़ाया, इसके लिए आपका आभार प्रकट करता हूं. दानापुर मंडल यात्री सुविधा के लिए सदा प्रयत्नशील है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व में एवं रेल मंत्री के प्रभावी निर्देशन में कार्य करते हुए पूर्व मध्य रेल विकास की ओर सतत् अग्रसर है. माननीय रेल मंत्री के बजट घोषणा के बाद बीते वर्ष 22 जनवरी को पटना में पांचों मंडल की समितियों की संयुक्त परिचयात्मक बैठक हुई थी. इसी बैठक में पांचों मंडलों की समितियों के अध्यक्ष का सर्वसम्मति से चुनाव किया गया था जिसमें दानापुर मंडल हेतु सांसद सीपी ठाकुर को अध्यक्ष नामित किया गया था.
दानापुर मंडल के मंडल रेल प्रबंधक आरके झा ने बैठक में दानापुर मंडल की उपलब्धियों से उपस्थित सदस्यों को अवगत कराया. इसके उपरांत अपर मंडल रेल प्रबंधक द्वारा दानापुर मंडल की उपलब्धियों से संबंधित पावर प्वाइन्ट प्रजेन्टेशन प्रस्तुत किया गया. पावर प्वाइंट प्रजेन्टेशन की प्रस्तुति के बाद सांसद महोदय से सुझाव आमंत्रित किये गये.
 सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि प्रकाशोत्सव के बाद बिहार में आने वाले श्रद्धालूओं की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है. उन्होंने बक्सर स्टेशन पर यात्री सुविधाओं के उन्नयन सहित अन्य सुझाव दिए. सांसद गोपाल नारायण सिंह ने पलामू एक्सप्रेस को डेहरी से चलाने, सासाराम में महत्वपूर्ण ट्रेनों का ठहराव देने, दानापुर से राजेन्द्रनगर के बीच सुचारू परिचालन हेतु तीसरी लाईन के निर्माण सहित अन्य सुझाव दिए. सांसद डाॅ. अरूण कुमार ने जहानाबाद कोर्ट में एफओबी, सिवनन हाल्ट और करोना हाल्ट के बीच दो मानव रहित फाटकों को या तो मानव सहित करने या वहां सव-वे बनाने, पटना राजधानी एक्सप्रेस का दानापुर में ठहराव सहित अन्य सुझाव दिए.
सांसद श्रीमती वीणा देवी ने पटना से लखीसराय तक प्रत्येक स्टेशन पर जहां महिला शौचालय नहीं है वहां उसका निर्माण कराने तथा जिन स्टेशनों पर महिला शौचालय है उनकी स्थिति में सुधार करने सहित अन्य सुझाव दिए. सांसद अली अनवर अंसारी ने बक्सर में राजधानी एक्सप्रेस के ठहराव, बरौनी बाईपास स्टेशन पर राज्यरानी एक्सप्रेस एवं कोसी एक्सप्रेस के ठहराव एवं स्टेशनों पर साफ-सफाई को और बेहतर करने सहित अन्य सुझाव दिए. सांसद कौषलेन्द्र कुमार ने बख्तियारपुर-राजगीर रेल लाईन के विद्युतीकरण कार्य प्रारंभ कराने के लिए धन्यवाद दिया. उन्होंने बिहारशरीफ स्टेशन के पास आरओबी बनाने, राजगीर से कोलकाता के लिए सीधी ट्रेन, दनियांवा बाजार के प्लेटफाॅर्म को उंचा करने, बिहारशरीफ-दनियावां रेलखंड पर और ट्रेने चलाने तथा इसे पटना तक बढ़ाने, इस्लामपुर-पटना के बीच और ट्रेने चलाने तथा बिहारशरीफ-बरबीघा नई लाईन के निर्माण कार्य में तेजी लाने सहित कई अन्य सुझाव दिए.
सांसद शत्रुध्न प्रसाद सिन्हा ने कहा कि ट्रेनों एवं स्टेशनों पर सुरक्षा एवं साफ-सफाई में सुधार हुआ है लेकिन उसकी सतत निगरानी की जानी चाहिए ताकि उसे और बेहतर किया जा सके. उन्होंने फतुहा में आरओबी का निर्माण कराने, पटना साहेब में रिटायरिंग रूम को जीआरपी से मुक्त कराने, खुसरूपुर में राज्यरानी एक्सप्रेस का ठहराव देने सहित अन्य सुझाव दिए. सांसद अष्विनी कुमार चैबे ने स्टेशनों पर ऐतिहासिक, पौराणिक जानकारियों को पेंटिग आदि द्वारा दर्शाने, डुमराव स्टेशन पर साफ-सफाई को बेहतर करने, बक्सर स्टेशन के पास इटाड़ी गुमटी पर आरओबी का निर्माण जल्द कराने, बक्सर-रामगढ़ होकर नई लाईन के निर्माण सहित अन्य सुझाव दिए. सांसद डाॅ. अनिल सहनी ने पटना राजधानी एक्सप्रेस को पटना जं. के प्लेटफाॅर्म 1 से चलाने सहित अन्य सुझाव दिए. इसके साथ ही सांसद डाॅ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय के प्रतिनिधि द्वारा धीना स्टेशन पर पीआरएस एवं फुट ओवर ब्रिज बनाने सहित अन्य सुझाव दिया गया.
मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, अरविन्द कुमार रजक ने बताया कि बैठक के बाद महाप्रबन्धक डीके गायेन ने सभी सांसदों के सुझावों के लिये आभार व्यक्त किया एवं उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किये.



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *